Google Chrome Browser Setting For Strong Privacy


Google Chrome: गूगल क्रोम (Google Chrome) ब्राउजर को तो सभी जानते हैं और ज्यादातर लोग इसे उसे भी करते हैं. लोग इंटरनेट ब्राउजर पर अलग अलग वेबसाइट ओपन करते हैं और ये वेबसाइट यूजर्स का सेंसटिव डेटा इकट्ठा करती हैं. जब आप इंटरनेट ब्राउज करने के लिए Google Chrome का यूज करते हुए आप विभिन्न वेबसाइट्स ओपन करते हैं. क्या आपको पता है कि ये वेबसाइट आपका सेंसटिव डेटा कलेक्ट करने के साथ-साथ आपके डिवाइस को ट्रैक भी कर सकती हैं? ऐसा ब्राउजर के डीफॉल्ट ट्रैकिंग फीचर के कारण होता है.

यूजर्स की प्राइवेसी को सम्मान देते हुए Google Chrome इससे बचने के लिए यूजर्स की मदद भी करता है. गूगल क्रोम अपने यूजर्स को Do not Track रिक्वेस्ट भेजने की सुविधा भी देता है. बता दें कि वेबसाइट्स आपके ब्राउजिंग डाटा का इस्तेमाल अपनी वेबसाइट पर कॉन्टेंट, सर्विस, विज्ञापनों आदि ऑफर करने के साथ-साथ रिपोर्टिंग डेटा तैयार करने के करती हैं. आप क्रोम में Do not Track रिक्वेस्ट करके उन्हें ऐसा करने से रोकने के लिए कह सकते हैं. इसके लिए आपको अपने गूगल क्रोम की सेटिंग में कुछ बदलाव करना होगा. आप नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो करके रिक्वेस्ट कर सकते हैं.

Google Chrome की सेटिंग में जाकर भेजें रिक्वेस्ट

बता दें कि यूजर डेस्कटॉप और एंड्रॉयड डिवाइस दोनों से यह रिक्वेस्ट भेज सकते हैं.

  • अपने लैपटॉप पर Google Chrome ओपन करें.
  • उसके बाद राइट साइड में ऊपर आ रहे तीन डॉट पर क्लिक कर दें.
  • अब सेटिंग ऑप्शन को सिलेक्ट करें.
  • अब लेफ्ट साइड में आपको Privacy and Security टैब पर क्लिक करना है.
  • अब Cookies and Other Site Data के ऑप्शन पर क्लिक कर दें.
  • इसके बाद आपको Send a Do not Track Request with your browsing traffic के टॉगल पर क्लिक करना है.
  • इसी तरह आप अपने स्मार्टफोन में गूगल क्रोम (Google Chrome) की सेटिंग में जाकर Do Not Track के लिए रिक्वेस्ट कर सकते हैं. हालांकि, उसमें आपको एक या 2 अलग स्टेप भी फॉलो करने पड़ सकते हैं.

एक स्मार्टफोन बेचकर कंपनी ग्राहक से कितना कमाती है? मुनाफे और घाटे का पूरा खेल समझिए

एक स्मार्टफोन बेचकर कंपनी ग्राहक से कितना कमाती है? मुनाफे और घाटे का पूरा खेल समझिए



Source link

Leave a Comment