Earthquake In Chhattisgarh’s Surguja Division Magnitude 3.0 On Richter Scale ANN


Surguja News: छत्तीसगढ़ के सरगुजा संभाग में गुरुवार की दोपहर भूकंप के झटके महसूस किए गए. हालांकि, भूकंप को तीव्रता कम थी इसलिए कोई नुकसान की खबर नहीं है. बता दें कि, आज 11:57 मिनट पर सरगुजा के अम्बिकापुर, लुण्ड्रा, उदयपुर इलाके में भूकंप के झटके महसूस किए गए. वहीं सूरजपुर जिले के प्रेमनगर, रामानुजनगर, सूरजपुर, सिलफिली, जरही क्षेत्र और कोरिया जिले के बैकुंठपुर में भी भूकंप का प्रभाव रहा. इसकी पुष्टि मौसम विज्ञानी अक्षय मोहन भट्ट ने की है. राहत की बात है कि, इस भूकंप में किसी भी प्रकार की जान माल की हानि नहीं हुई है.

सूरजपुर जिले में भूकंप के झटके महसूस होने पर कलेक्टर ईफ्फत आरा के निर्देश पर शिक्षा विभाग ने सतर्कता बरतते हुए सभी प्राइमरी, मिडिल, हाई और हायर सेकेंडरी स्कूलों की छुट्टियां कर दी है.

इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी विनोद राय ने बताया कि जिले में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे, इसलिए कलेक्टर मेडम के निर्देश पर एहतियातन स्कूलों की छुट्टी कर दी गई. वहीं मौसम विज्ञानी अक्षय मोहन भट्ट ने बताया कि भूकंप की तीव्रता 3.0 थी. भूकंप का सेंटर सूरजपुर था. सेंटर से 50 से 60 किलोमीटर की परिधि में भूकंप का प्रभाव था.

गौरतलब है कि हाल ही में कोरिया जिले में दो बार भूकंप के झटके लग चुके है. सबसे पहले जिला मुख्यालय बैकुंठपुर के पास 11 जुलाई की सुबह 8 बजकर 10 मिनट पर 4.3 रिक्टर तीव्रता वाला भूकंपीय झटका महसूस किया गया.

इसके बाद 28 जुलाई की दरम्यानी रात उसी क्षेत्र में रात 12 बजकर 38 मिनट पर 11 जुलाई की तुलना में अधिक तीव्रता का भूकंप महसूस किया गया. जिसकी तीव्रता मौसम विभाग के भूकंप अनुभाग की ओर से 4.6 रिक्टर मापी गई. भूकंपीय तरंग का एपीसेंटर भूसतह से लगभग 16 किलोमीटर जमीन के भीतर था. साथ मॉडरेट श्रेणी का भूकंप था, जिसमे कच्चे मकान या भूसतह पर बने कमजोर बनावट को क्षति पहुंचाने में सक्षम था.

ये भी पढ़ें-

Chhattisgarh Swine Flu News: कोरोना के खतरे के बीच छत्तीसगढ़ में स्वाइन फ्लू ने दी दस्तक, इन जिलों में मिले केस

Bastar News: दंतेवाड़ा के इस प्राचीन नागदेवता मंदिर की नागवंशी राजाओं से जुड़ी है कहानी, चर्चित हैं नाग की अद्भुत कथाएं



Source link

Leave a Comment